Author Posts

June 24, 2015 at 10:22 am

  1. त्रिफला चूर्ण चार ग्राम (एक चम्मच भर) को 200 ग्राम हल्के गर्म दूध या गर्म पानी के साथ लेने से कब्ज दूर होता है।
  2. मेथी भी एक जबरदस्त सेहतमंद मसाला है।1 चम्मच मेथी दाना को पानी के साथ निगलने से अपचन की समस्या दूर होती है।
  3. अक्सर वैद्य कब्ज से तुरंत राहत दिलाने के लिए नींबू के रस लेने को कहते हैं। एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू और नमक मिलाकर सुबह खाली पेट पिएं। इससे आंतों में से शरीर का बेकार तत्व साफ होता है। इसके लिए एक गिलास गर्म पानी में एक छोटा चम्मच नींबू का रस मिलाएं और फिर चुटकी भर नमक मिलाकर इस जूस को सुबह फ्रेश होने से पहले पिएं। इससे शरीर का टॉक्सिन भी बाहर हो जाते है।

June 24, 2015 at 10:23 am

  1. अंजीर पका हो या सूखा, जुलाब की तरह काम करता है, क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा काफी ज्यादा होती है। कब्ज से राहत पाने के लिए एक गिलास दूध में अंजीर के कुछ टुकड़ों को उबालें और इसे रात को सोने से पहले पिएं। ध्यान रहे, गर्म दूध ही पिएं। साबुत अंजीर का सेवन मेडिकल शॉप में मिलने वाले कब्ज खत्म करने वाले सीरप से ज्यादा असरदार होता है।

  2. अरंडी के तेल को सदियों से कब्ज से राहत पाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। कब्ज खत्म करने के साथ यह पेट के कीड़े भी नष्ट करता है। खाली अरंडी के तेल को पीने से बेहतर रहेगा कि आप इसे रात को सोने से पहले दूध में मिलाकर पिएं। एक चम्मच से ज़्यादा न डालें। इससे अगले दिन पेट साफ रहेगा।

  3. पालक में पेट साफ करने, हानिकारक टॉक्सिन को आंतों से बाहर करने जैसे गुण होते हैं। इसलिए लगभग 100 मि.ली. पालक का जूस बराबर मात्रा में पानी के साथ मिलाकर दिन में दो बार पिएं। यह घरेलू उपाय पुराने कब्ज को भी दूर कर देता है।

June 24, 2015 at 10:25 am

  1. संतरा सिर्फ विटामिन सी का ही मुख्य स्रोत नहीं है, बल्कि इसमें फाइबर की भरपूर मात्रा होती है। रोज सुबह-शाम एक-एक संतरा खाने से कब्ज जैसी बीमारी में राहत मिलती है।
  2. दो से तीन सूरजमुखी के बीजों को कुछ अलसी के बीज, तिल या सीसेम बीज और कसे हुए बादाम के साथ मिलाकर पाउडर बना लें। अब एक हफ्ते तक रोज एक बड़ा चम्मच इस मिक्सचर को खाएं। यह मिश्रण सिर्फ कब्ज की बीमारी को ही दूर नहीं करता, बल्कि आंतों की दीवार को पुनर्निमित करता है।
  3.  कब्ज़, एसिडिटी और हैंगओवर उतारने के लिेए। ब्लड शुगर और अल्सर जैसी बीमारियों में भी केला कारगर है।

June 24, 2015 at 10:26 am

  1. डाइजेस्टिव सिस्टम के लिए तुलसी बेहद फायदेमंद होती है। यह पेट में अधिक लिक्विड बढ़ाने का काम करती है और इसमें अल्सर विरोधी गुण भी होते हैं। स्पाइसी खाना होने वाले एसिड को कम करने का भी काम करता है। रोज़ सुबह तुलसी खाने से गैस की समस्या कम होती है।
  2. मूंगफली में तेल का अंश होने से यह पेट की बीमारियों को खत्म करती है। इसके नियमित सेवन से कब्ज की समस्या नहीं होती है। साथ ही, गैस व एसिडिटी की समस्या से भी राहत मिलती है।
  3. इनमें भी फाइबर की मात्रा अधिक होती है। इसलिए यह कब्ज जैसी बीमारी से राहत देता है। अच्छे रिज़ल्ट के लिए अलसी के बीज को आप सुबह कॉर्नफ्लेक्स के साथ मिलाकर खा सकते हैं या फिर मुट्ठी भर अलसी के बीज को गर्म पानी के साथ सुबह खा सकते हैं। फाइबर आपकी डाइट में ज़रूर होना चाहिए। इससे आप कब्ज जैसी परेशानी से दूर रहेंगे। अलसी के बीज कब्ज के साथ-साथ डायबिटीज़, हृदय रोग, मोटापे और कैंसर के खतरे को कम करता है।

June 24, 2015 at 10:28 am

  1. कब्ज जैसी समस्या से जूझ रहे मरीजों के लिए लौकी खाना बहुत ही फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें मौजूद फाइबर पेट की अंदरूनी सफाई करता है। साथ ही एसिडिटी की प्रॉब्लम होने पर लौकी का जूस पीना बहुत ही फायदेमंद होता है।
  2. गुलकंद में विटामिन सी, ई और बी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। भोजन के बाद गुलकंद खाने से पाचन से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाती हैं।
  3. लैक्टोज की मात्रा के कारण बहुत सारे लोगों को दूध का स्वाद पसंद नहीं होता, तो उन्हें दही का सेवन करना चाहिए, क्योंकि इसमें लैक्टोज लैक्टिक एसिड में बदल जाता है। यह खाने को पचाने में मददगार होता है। साथ ही इसे खाकर दूध से मिलने वाले न्यूट्रिशन्स की भी पूर्ति हो जाती है।
  4. खीरा खाने से कब्ज दूर होती है। यह पीलिया, प्यास, बुखार और शरीर की जलन व गर्मी के सारे दोषों को दूर करता है। इसका रस पथरी में भी लाभदायक होता है।
  5. कटहल के पके फलों का ज्यादा सेवन करने से पेट साफ होता है। साथ ही, अपच की समस्या का निवारण हो जाता है।